हरिद्वार,हर्षिता।प्रदेश अध्यक्ष चंद्रमोहन कौशिक ने कहा कि अंबरीश जी एक बुद्धिजीवी, चरित्रवान, प्रखर वक्ता एवं एक कुशल राजनीतिज्ञ थे ! अंबरीश जी ने चाटुकारिता की राजनीति को दरकिनार कर अपने सिद्धांतों से कभी समझौता नहीं किया वह शेर दिल नेता थे! अंबरीश जी जनसमस्याओं को आंदोलनों के माध्यम से पुरजोर ढंग से उठाने वाले जननेता थे! उन्होंने कहा कि चुनाव में हार जीत तो होती रहती है परंतु अंबरीश जी हरिद्वार की जनता के दिलों में बसते थे उनके निधन से सिद्धांतों की राजनीति का एक अध्याय समाप्त हुआ है उनका निधन हरिद्वार की जनता के लिए अपूरणीय क्षति है!

By DTI

error: Content is protected !!