इंटरनेट डेस्क,डीटी आई न्यूज़।सोशल मीडिया का इस्तेमाल इन दिनों लगभग हर कोई करता है. ये ऐसा प्लेटफार्म बन गया है जिसपर लोग कई तरह की जानकारी भी शेयर करते हैं. लेकिन कई बार आपने ये सुना होगा कि इंटरनेट पर मौजूद हर जानकारी सही नहीं होती. और इस बात में कोई शक भी नहीं है. अब डॉ एरिम चौध्री ने लोगों को इंटरनेट पर ट्रेंड कर रही एक नई तरह की जानकारी की असलियत बताई है. दरअसल, सोशल मीडिया पर इन दिनों कंडोम में रेड हॉट सॉस डालकर इस्तेमाल करने का ट्रेंड चल रहा है. लेकिन डॉक्टर्स ने इसे लेकर चेतावनी जारी कर दी है.


डॉ एरिम ने लोगों से आग्रह किया है कि प्रेग्नेंसी रोकने के लिए भूल से भी कंडोम सॉस डालने वाला ट्रेंड फॉलो ना करें. ऑनलाइन ये आइडिया काफी ट्रेंड कर रहा है. लेकिन अब मेंस हेल्थ प्लेटफॉर्म के डायरेक्टर डॉ एरिम ने कहा कि अगर आप बेडरूम में एक्सपेरिमेंट करना चाहते हैं, तो भी भूलकर ये रेड सॉस वाला एक्सपेरिमेंट ना करें. उन्होंने कहा कि अपने प्राइवेट पार्ट पर लाल मिर्ची की चटनी लगने के बाद एक्साइटमेंट कम और दर्द ज्यादा होगा.
डॉ एरिम ने आगे बताया कि बेडरुम में एक्सपेरिमेंट के नाम पर खाने-पीने की चीजें यूज करना आम बात है. लेकिन जाहिर सी बात है कि लाल मिर्च की चटनी का इस्तेमाल आप भी नहीं करना चाहेंगे. हॉट सॉस में मौजूद केमिकल्स आपको बेहद जलन फील करवा सकते हैं. इसकी वजह से आपको बेहद दर्द और जलन हो सकती है. मर्दों के प्राइवेट पार्ट में करीब चार हजार नर्व्स होते हैं. साथ ही महिलाओं के प्राइवेट पार्ट में इसके दोगुने नर्व्स होते हैं. ऐसे में जरा इसमें लाल मिर्च की चटनी लगने पर होने वाले दर्द की सिर्फ कल्पना ही की जा सकती है.
ट्रेंड के हिसाब से रेड सॉस में ऐसे केमिकल होते हैं जिसकी वजह से स्पर्म मर जाते हैं. इससे प्रेग्नेंट होने का हर चांस खत्म हो जाता है. इसकी वजह से कई लोग इस ट्रेंड को फॉलो करने की कोशिश कर रहे हैं. लेकिन इसका अंजाम डरवाना ही हो रहा है. इस वजह से इस ट्रेंड से दूर रहने की रिक्वेस्ट की जा रही है.

By DTI

error: Content is protected !!