हरिद्वार,हर्षिता।लालढांग में आज रायबार समिति द्वारा राष्ट्रीय प्राकृतिक रेशा अनुसंधान संस्थान द्वारा उत्तराखंड के प्राकृतिक रेशो के आयाम के बारे में महिलाओं को प्रशिक्षण दिया। रायबार समिति की अध्यक्ष श्रुति लखेरा ने कहा कि वह इस क्षेत्र में गत 5 साल से काम का रही है और इसकी संभावनाओं को देखते हुए उत्तराखंड के लिए इस क्षेत्र को एक नया आयाम मिल सकता है । उन्होंने अपने गांव लालढांग में प्राकृतिक रेशे के प्रसास्टिकरण की एक फैक्टरी लगाने की भी बात कही । आज इस एक दिवसीय कार्यशाला में डायरेक्टर NINFET Dr शाक्यवार और Dr आलोक नाथ मौजूद थे।

By DTI

error: Content is protected !!