देहरदूंन,डीटी आई न्यूज़। दुनियाभर में प्रसिद्ध चारधाम यात्रा मंगलवार तीन मई से विधिवत शुरू हो जाएगी। गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने के साथ तीन मई को यात्रा शुरू हो जाएगी। सोमवार को ऋषिकेश से तीर्थयात्रियों को लेकर बसें भी रवाना हुई हैं। वहीं अब तक करीब साढ़े तीन लाख से ज्‍यादा श्रद्धालु आनलाइन पंजीकरण करवा चुके हैं।

कोरोना संक्रमण कम होने के बाद दो साल बाद इस बार यात्रा में रिकार्ड तोड़ तीर्थयात्रियों के पहुंचने की संभावना है। मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी भी इस बात की संभवना जता चुके हैं।
आनलाइन पंजीकरण अनिवार्य

यात्रा पर आने के लिए आनलाइन पंजीकरण अनिवार्य है। इसके साथ ही इस बार शासन ने 45 दिन के लिए धामों में यात्रियों की संख्‍या सीमित कर दी है। जिसके तहत बदरीनाथ में प्रतिदिन केवल 15 हजार, केदारनाथ धाम में 12 हजार , गंगोत्री में सात हजार और यमुनोत्री में चार हजार तीर्थयात्री दर्शन कर सकेंगे।

किस दिन कहां के कपाट खुलेंगे

3 मई – गंगोत्री धाम

3 मई – यमुनोत्री धाम

6 मई – केदारनाथ धाम

8 मई – बदरीनाथ धाम

रायवाला पुलिस करेगी चार धाम यात्रियों की मदद

उत्तराखंड आने वाले चार धाम यात्रिओं और पर्यटकों को यात्रा के दौरान किसी तरह की कोई परेशानी न हो, इसके लिए थाना रायवाला की ओर से ऋषिकेश हाईवे पर सत्यनारायण मंदिर के पास पर्यटन पुलिस चौकी तैयार की गई है। जिसके जरिये यात्रियों को धार्मिक व पर्यटन संबंधी जानकारी उपलब्ध कराने के साथ उन्हें जरूरी सुविधाएं भी मुहैया कराई जाएंगी।
ऐसे कर सकते हैं चारधाम यात्रा पंजीकरण

राज्य सरकार ने सभी श्रद्धालुओं के लिए चारधाम यात्रा ई-पास पंजीकरण की व्यवस्था की है। यात्रा से पहले अपना पंजीकरण https://registrationandtouristcare.uk.gov.in/ पर कराना अनिवार्य है।

पंजीकरण कैसे करें

-https://badrinath-kedarnath.gov.in/ पर जाएं और रजिस्‍ट्रेशन या लागइन पर क्लिक करें।

  • नए रजिस्‍ट्रेशन के लिए जरूरी जानकारियां भरें। जैसे – नाम और मोबाइल नंबर।
    रजिस्‍ट्रेशन के दौरान आवश्यक दस्तावेज फोटो आईडी, कोविड रिपोर्ट भी साथ में रखें।
  • रजिस्‍ट्रेशन पूरा होने के बाद https://badrinath-kedarnath.gov.in/Auth/LoginRegister/Login_Pilgrim.aspx पर जाएं।
  • पेज खुलने के बाद अपना रजिस्‍टर मोबाइल नंबर और पासवर्ड डालकर ई-पास डाउनलोड करें

By DTI

error: Content is protected !!