हरिद्वार,डीटी आई न्यूज़।हेवी इलेक्ट्रिकल्स वर्कर्स ट्रेड यूनियन रानीपुर हरिद्वार एवं सी एफ एफ पी श्रमिक युनियन, सीएफएफपी वर्कर्स यूनियन के पदाधिकारीयों एवं सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने आज दिनाँक 12/5/22 को साँय 3:00 बजे अपने यूनियन कार्यालय 161 टाइप -3 सेक्टर वन में यूनियन के मान्यता चुनाव को लेकर एक बैठक की।
बैठक को संबोधित करते हुए हेवी इलेक्ट्रिकल वर्कर्स ट्रेड यूनियन के महामंत्री विकास सिंह ने कहा कि यूनियन दो वर्षों से यूनियन के मान्यता के चुनाव कराने के लिए धरना प्रदर्शन के माध्यम से संघर्षरत थी। हमारे यूनियन के अर्थक प्रयासों और दबाव के कारण भेल प्रबंधन ने 9 जुलाई 2022 दिन शनिवार को चुनाव की घोषणा की है। यह हमारे यूनियन के कार्यकर्ताओं की जीत है। विकास सिंह ने कहा की पिछले 6 सालों में जो यूनियने मान्यता में रहते हुए भेल के मजदूरों के हितों के लिए काम नहीं किया तथा उनके साथ विश्वासघात धोखा किया है। ऐसी यूनियनों को भेल हरिद्वार के मजदूरों को सबक सिखाना चाहिए।


यूनियन के कार्यवाहक अध्यक्ष रवि कश्यप ने कहा कि जिस प्रकार प्रबंधन ने यूनियन के मान्यता के चुनाव की घोषणा की है उसी प्रकार समुदायिक केंद्र के चुनावों की भी घोषणा भी स्थानीय प्रबंधन जल्द से जल्द करें।
सी एफ एफ पी श्रमिक यूनियन के महामंत्री अमित गोगना ने कहा कि वेज रिवीजन के समय 2009 भर्ती मजदूरों साथियों को जिन्हें मान्यता प्राप्त यूनियनों ने यह कह कर विश्वास दिलाया था की अगर वेज रिवीजन में ढाई इंक्रीमेंट की मांग नहीं मानी गई तो हम वेज रिवीजन पर हस्ताक्षर नहीं करेंगे। परंतु भेल हरिद्वार की नम्बर 1 व 2 मान्यता प्राप्त युनियनो ने कर्मचारियों के साथ यूनियनों ने धोखा किया। ऐसी यूनियनों को सबक सिखाने का समय आ गया है।
बेठक में सम्मिलित होने वाले में जय शंकर सिंह,बलबीर सिंह रावत, , राकेश मालवीय, नवीन गिरी, मोहित शर्मा, अशोक कुमार सिंह, अरविंद मावी, नवीन कुमार, विकास सैनी , ,अरविंद कुण्डु, कामता प्रसाद, हरिद्वारी यादव, बबलू गोड, नवीन कुमार, अरविंद कुमार, प्रहलाद चौहान, संदीप जोशी, वीरेंद्र सिंह भदोरिया, मणी प्रकाश तिवारी, राजबीर सिंह, वाजिद अली, अजय, अरूण भट्ट, धर्मेश गुप्ता,बीएन यादव, गोविन्द सिंह रावत, विपिन सैनी, बिरेंद्र नेगी सहित सैकड़ों सदस्य शामिल हुए।
(विकास सिंह)
मीडिया प्रभारी एवं महामंत्री
हैवी इलैक्ट्रिकल्स् वर्कर्स ट्रेड यूनियन
मोबाइल संख्या 9759279555

By DTI

error: Content is protected !!